पंचगनी





पंचगनी

पंचगनी महाबलेश्वर से मात्र 19 किमी दूर स्थित है। यह अपने चारों ओर से रमणीक दृश्यों से भरपूर होने के कारण सैलानियों के लिए आकर्षण का केंद्र है। पंचगनी कृष्णा घाटी के दक्षिण में स्थित है। यहाँ पर्वत शृंखलाओं को देखना और तेज़ हवाओं से बात करना एक अनूठा अनुभव है। यहाँ अनगिनत फ़िल्मों के प्रेम गीतों की शूटिंग होती रहती है।
सह्याद्रि पर्वत की पश्चिमी श्रेणी में स्थित 'लोनावाला' और 'खंडाला' दो रम्य पहाड़ियाँ हैं।
मुंबई-पुणे हाइवे पर ये पहाड़ियाँ मुंबई से 118 किमी और पुणे से 67 किमी की दूरी पर स्थित हैं।
इन दोनों पहाड़ियों के बीच मात्र 5 किमी का फासला है।
समुद्र तल से 625 मीटर की ऊँचाई पर स्थित इन स्थलों की खोज 1871 में मुंबई प्रेसीडेंसी के गवर्नर सर एल. फ़िस्टन ने की थी।
यहाँ के नैसर्गिक सौंदर्य व स्वास्थ्यवर्धक जलवायु के आकर्षण में उन्होंने इसका पर्यटन स्थल के रूप में विकास कर दिया।
यहाँ पहुँचने के लिए मुंबई से ट्रेन, बसों तथा टैक्सियों की अच्छी सुविधा है।
ट्रेन द्वारा सफर से 3 घंटे में लोनावाला पहुँचा जा सकता है।
मुंबई से हर आधे घंटे बाद में यहाँ के लिए बसें मिलती हैं।
दिनभर सैर-सपाटा करके पर्यटक रात में ही मुंबई वापस लौट सकते हैं।[1]

Advertisement

 
Top