मलेशिया बहुत खूबसूरत है और वहां के प्राकृतिक सौंदर्य में विविधता भी है। भारतीयों को वहां जाना खासा पसंद रहा है। अब मलेशिया में एक और जगह भारतीयों को लुभाने के लिए तैयार है- लांगकवी। वहां जाने वाले भारतीय सैलानियों की संख्या में इजाफा भी हो रहा है। लांगकवी एक खूबसूरत द्वीप है। वहां जाने वाले भारतीयों में शॉपिंग करने वालों और प्राकृतिक खूबसूरती निहारने वालों की तो संख्या खासी है ही, उनकी संख्या भी है जो कारोबारी मीटिंग वहां करना मुनासिब समझते हैं।

भारतीयों की संख्या में इजाफा होने की ही वजह से वहां का टूरिस्ट विभाग सेवा क्षेत्र में लगे लोगों- टैक्सी ड्राइवरों, रेस्तरां ऑपरेटरों, शॉपिंग सेंटर कर्मचारियों, आदि के लिए खास हिंदी के कोर्स चला रहा है ताकि वे भारतीय सैलानियों की खिदमत बखूबी कर सकें। भारतीयों के लिए खास टूरिस्ट पैकेज भी लाए जा रहे हैं। इस जगह की पसंद इतनी है कि भारत के एक धनकुबेर ने हाल ही में अपनी शादी तक के लिए इसे चुन लिया था।

99 द्वीपों का समूह

लांगकवी दरअसल अंडमान समुद्र में 99 द्वीपों का एक समूह है। जब समुद्र का पानी उतार पर होता है तो पांच और द्वीप सतह पर आ जाते हैं। यहां के बीच पेनांग के बीचों से होड़ लेते हैं। लांगकवी की केबल कार और यहां का स्काई ब्रिज बेहद अनूठे हैं। स्काई ब्रिज समुद्र तल से 700 मीटर ऊपर है। 125 मीटर लंबा यह पैदल पुल आसमान में तैरता सा है। पुल की चौड़ाई 1.8 मीटर है और दो जगहों पर साढ़े तीन मीटर से ज्यादा चौड़े तिकोनाकार प्लेटफार्म हैं जहां बैठकर सुस्ताया और आासपास का नजारा लिया जा सकता है। जहां पुल है और जहां का नजारा उस पुल से मिलता है, दोनों ही अद्भुत है। मलेशिया की यात्रा में यह न छोड़ने वाला अनुभव होगा।

Advertisement

 
Top